ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
आईआईटी कानपुर में बिना अनुमति के छात्रों ने किया विरोध, सोशल मीडिया में पोस्ट की गयी तस्वीरें
January 8, 2020 • Faisal Hayat • Education


कानपुर । विदेशी छात्रा के उत्पीड़न में प्रोफेसर की बर्खास्तगी, पाकिस्तानी कवि फैज की नज्म गाने के बाद अब एक बार फिर आईआईटी सुर्खियों में आ गया। अबकी बार यहां के छात्रों ने बिना अनुमति के एक बार फिर जेएनयू छात्रों के समर्थन में विरोध प्रदर्शन किया। छात्रों का कहना है कि शैक्षणिक संस्थान को राजनीति का अड्डा बनाया जा रहा है और इसी के तहत दिल्ली के जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय (जेएनयू) में हिंसा हुई और निहत्थे छात्रों को जमकर पीटा गया।
दिल्ली के जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय में हुई हिंसा को लेकर पूरे देश के विश्वविद्यालयों में विरोध प्रदर्शन हो रहा है। इसी क्रम में आमतौर पर विरोध प्रदर्शन से दूर रहने वाला भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान कानपुर (आईआईटी) भी अछूता नहीं रह सका। देर रात यहां के छात्रों ने एक बार फिर बिना अनुमति के जेएनयू के पक्ष में नुक्कड़ सभा कर विरोध प्रदर्शन किया जिस की सोशल मीडिया में फोटो वायरल कर दी गयी। जेएनयू की घटना की निंदा करने के साथ ही स्लोगन लिखी तख्तियां लेकर कई छात्र मैदान में एकत्र हुए और बैठक में अपनी-अपनी बात रखी। छात्रों ने कहा कि जेएनयू जैसी घटना से शैक्षिक संस्थानों की छवि धूमिल हो रही है और हम लोग ऐसी हिंसा का विरोध करते हैं। यह भी कहा गया कि किसी भी मामले में अंहिसा की विचारधारा रखनी चाहिये। छात्रों की विरोध की तस्वीरें वायरल हुईं तो एक बार फिर सरगर्मियों की हवा तेज हो गई। वहीं आईआईटी प्रशासन ने फिलहाल कुछ नहीं कहा है। लेकिन, छात्रों के इकठ्ठा होकर बैठक करने की पुष्टि की है । जिसमें देश के माहौल और जेएनयू पर चर्चा करने, अहिंसा की बात तथा गीत-गजल गाने की बात कही गई है।