ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
अमेरिकन कम्पनी ऐमज़ॉन सी0ई0 के भारत आगमन पर देशव्यापी विरोध प्रदर्शन किया
January 15, 2020 • Faisal Hayat • Social


 कानपुर । देश के लगभग 7 करोड़ व कानपुर शहर के छोटी बाज़ारो के लगभग 4 लाख खुदरा व्यापारियों के व्यापार को चौपट करने वाली ऑनलाइन कंपनियों में से एक अमेरिकन कम्पनी ऐमज़ॉन के सी ई ओ जेफ़ बेजोस के भारत आगमन पर देशव्यापी  विरोध प्रदर्शन के  अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल  के तत्वाधान में प्रदेश महामन्त्री ज्ञानेश मिश्र, महानगर महामन्त्री अतुल द्विवेदी,संग़ठन महामन्त्री रोशन गुप्ता व युवा अध्य्क्ष सरदार गुरजिंदर सिंह के नेतृत्व में  देश के लगभग 7 करोड़ व कानपुर शहर के छोटी बाज़ारो के लगभग 4 लाख खुदरा व्यापारियों के व्यापार को चौपट करने वाली ऑनलाइन कंपनियों में से एक अमेरिकन कम्पनी ऐमज़ॉन के सी ई ओ जेफ़ बेजोस के भारत आगमन पर देशव्यापी  विरोध प्रदर्शन के तहत भारत माता प्रतिमा स्थल,घण्टाघर पर व्यापारियों ने काले कपड़े पहनकर व काली पट्टी बांधकर जेफ बेजोस के कटआउट व पोस्टर जलाकर विशाल विरोध प्रदर्शन किया और तय हुआ कि अमेरिकन ऑनलाईन कंपनियों के खिलाफ आंदोलन जारी रहेगा।भारतमाता प्रतिमा स्थल घण्टाघर पर भारी संख्या में एकत्र हुए  विभिन्न बाज़ारो के व्यापारी हाथो में जेफ बेजोस -गो बैक ऑनलाइन कंपनियां भारत सरकार के नियमो का उलंघन कर रही है -ऑनलाईन व्यापार बन्द हो ऑनलाइन कंपनियां जी एस टी की चोरी कर रही है -इनका व्यापार बन्द हो  लिखी तख्तियां लेकर काफी देर तक नारेबाजी कर रहे थे  जेफ बेजोस व अमेज़ॉन ऑनलाइन कंपनी  के खिलाफ नारे लगाए! प्रदर्शन के दौरान प्रदेश महामंत्री ज्ञानेश मिश्र ने कहा  कि  अमेरिकन विदेशी ऑनलाइन कंपनी अमेज़ॉन के सी ई ओ जेफ बेजोस देश की राजधानी दिल्ली आए है उनका विरोध पूरे देश मे हो रहा है। अमेरिकन कंपनी अमेज़ॉन भारत सरकार द्वारा बनाये गए 1 फरवरी 2019 के नियमों का उलंघन कर रही है जिससे सीधे देश के 7 करोड़ व कानपुर के 4 लाख खुदरा व्यापारियों के व्यापार प्रभावित हो रहा है और आज़ादी के पहले आई ईस्ट इंडिया कम्पनी की तरह देश के व्यापारियों को गुलाम बनाने का काम कर रही है। युवा अध्य्क्ष सरदार गुरजिंदर सिंह ने कहा कि देश के लगभग 7 करोड़ व का वर्तमान सुस्ती व मंदी के दौर में देश के 7 करोड़ खुदरा व्यापारियों के व्यापार को बचाने के लिए अमेज़ॉन जैसी ऑनलाइन कंपनियों पर रोक लगाने व इन पर नियंत्रण रखने के किए एक नियामक आयोग बनाया जाय । प्रमुख रूप से अशोक शुक्ल, अजय गुप्ता राजू,आशीष मिश्र ,आकाश यादव, अनुराग साहू,जय कुमार शर्मा,पवन गौड़,रामजी तिवारी,प्रेमपाल यादव,भोला मिश्र,पवन गुप्ता,रामप्रताप यादव,अब्दुल वाहिद,मनोज विष्वकर्मा,अरविंद गुप्ता,सत्यम मिश्र,प्रखर श्रीवास्तव,प्रखर शुक्ल ,दिनेश शुक्ल आदि लोग मौजूद रहे ।