ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
छात्रों पर बर्बरता करने वाले पुलिस अधिकारी हो बर्खास्त - हयात ज़फर हाशमी
December 16, 2019 • Faisal Hayat • Social



कानपुर । छात्र एकता परिषद् व एमएमए जौहर फैन्स एसोसिएशन के सयुंक्त तत्वावधान में हजारों छात्र-छात्राएं चेतना चौराहे पर जमा हुए जहां से जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचकर कल दिल्ली की जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय व अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में छात्रों के साथ हुई मारपीट,फायरिंग,आसू गैस,बुलेट फायरिंग, छात्राओं को पुरुष पुलिस कर्मियों द्वारा मारे जाने का विरोध करते हुए महामहिम राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, दिल्ली के मुख्यमंत्री,उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी कानपुर के माध्यम से भेजा गया।छात्रों की मांग करते हुए युवा समाजिक कार्यकर्ता हयात ज़फर हाशमी ने कहा कि कल दिल्ली की जामिया और अलीगढ़ विश्वविद्यालय में जिस प्रकार से नागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध कर रहे निहत्थे मासूम छात्रों पर पुलिसिया हमला हुआ है वह निन्दनीय और कायरता पूर्ण है नागरिकता संशोधन विधेयक देश को नफरत की आग में झोंकने का काम कर रहा है महामहिम राष्ट्रपति व मुख्य न्यायाधीश को चाहिए तत्काल इस काले कानून को वापस ले।लोकतंत्रिक ढंग से विरोध करने वालों के साथ असंवैधानिक तरीके से की गई बर्बरता, लाठी चार्ज, घसीटकर अपराधियों जैसा व्यवहार करना निन्दनीय है।ऐसे पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों को चिन्हित कर बर्खास्त किया जाए। 
छात्र नेता फैज़ बेग ने कहा कि JMI OR AMU के समर्थन कानपुर छात्रों का आंदोलन जारी रहेगा जबतक छात्रों को इंसाफ नही मिलता।ज्ञापन देने वालों में जावेद मोहम्मद खान, हाफिज़ मोहम्मद फैसल जाफरी, फैज़ इदरिसी, शादाब, मोहम्मद ईशान, फिरोज अन्सारी बाबी, सैफी अन्सारी, मोहम्मद शारिक, फैज़ खान, रिया सिद्दीकी, मोहम्मद मोहसिन, डॉ जफर खान, रईस पहलवान, अंकुर दीक्षित,काशिफ अन्सारी, कुमैल अन्सारी, आदिल कुरैशी आदि मौजूद रहे ।