ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
हाईस्कूल गणित पेपर की तैयारी ऐसे करें - बलवीर सिंह प्रजापति
January 14, 2020 • Faisal Hayat • Education

   सिद्धार्थ ओमर

छात्र गणित को मुश्किल सब्जेक्ट मानते हैं

  • परीक्षार्थियों को अपना पाठ्यक्रम अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए
  • किताबों में दिए गए उदाहरण को जरूर समझने का प्रयास करें 
  • जो भी पढ़े उसके साथ नोट्स बनाते चले
  • अपने खान-पान और सेहत पर ध्यान देंते रहे

कानपुर । छात्र गणित को एक ऐसा मुश्किल सब्जेक्ट मानते हैं । जिससे छात्रों के मन में एक भय पैदा हो जाता है । कि हम प्रश्न पत्र कैसे हल करेंगे। यह भी देखा गया है कि बहुत से परीक्षार्थियों को यह भी पता ही नहीं होता है । कि गणित की तैयारी कैसे करें और इसकी शुरुआत कहां से करें ।                 इस संबंध में पी पी एन इंटर कॉलेज कानपुर के गणित शिक्षक बलवीर सिंह प्रजापति ने बताया कि सब से पहले परीक्षार्थियों को अपना पाठ्यक्रम अच्छी तरह से समझ लेना चाहिए । जितना समय मिला है उस समय सीमा के अंदर प्रश्नों की तैयारी कर लेना चाहिए।

मैथ बड़ा ही दिलचस्प विषय होता है । इसकी घबराहट के चलते विद्यार्थी इस विषय को ठीक से नहीं समझ पाते हैं। स्टूडेंट्स को हमेशा गणित विषय में शिकायत रहती है । कि तमाम कोशिशो के बावजूद वह कठिन प्रश्नों को नहीं हल कर पाते हैं । जो टॉपिक आप नहीं समझ पा रहे हैं तो उसको छोड़ कर आगे टॉपिक को न पढ़ें क्योंकि एक चैप्टर दूसरे चैप्टर से जुड़ा रहता है । किताबों में दिए गए उदाहरण को जरूर समझने का प्रयास करें । इसको हल करके अवश्य देखें। गणित में फार्मूला याद रखना सबसे ज्यादा जरूरी है बिना फार्मूले के आप सवाल हल नहीं कर सकते  इसलिए फार्मूले के नोट्स अवश्य बनाएं ।उन अध्याय को ज्यादा तैयार करें, जिन से ज्यादा प्रश्न पूछे जाते हैं। प्रश्न पेपर,मॉडल पेपर पिछले कई सालों के अनसोल्ड पेपर अवश्य हल करें, जिससे आपको अंदाजा लग जाएगा कि परीक्षा में किस तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं ।

बलवीर सिंह प्रजापति ने बताया कि गणित में दोहराते रहना आवश्यक है । इससे आप की तैयारी बहुत ही अच्छी होगी जो भी पढ़े उसके साथ नोट्स बनाते चले ,जिससे परीक्षा के दौरान ,समय की बचत होगी। गणित पाठ्यक्रम में संख्या पद्धति 5 अंक, बीजगणित 18 अंक, निर्देशांक ज्यामिति 5 अंक, ज्यामिति 12 अंक, त्रिकोणमिति 12 अंक, मेंसुरेशन 8 अंक व सांख्यिकी एवं प्रायिकता 10 अंक निर्धारित है बहुविकल्पी प्रश्न को पहले रफ हल कर लेना चाहिए । इसके बाद ही उसका सही उत्तर चुनना चाहिए। गणित में बहुविकल्पी प्रश्न के 6 प्रश्न पूछे जाएंगे जो प्रत्येक 1 अंक का होगा। अति लघु उत्तरीय प्रश्न 4 पूछे जाएंगे जो प्रत्येक 1 अंक का होगा। लघु उत्तरीय प्रश्न आठ के पूछे जाएंगे जो प्रत्येक 2 अंक का होगा। 4 अंकों के प्रश्न आठ पूछे जाएंगे ।छह अंकों के 2 प्रश्न पूछे जाएंगे।पढ़ाई का समय बांटकर करें तो बेहतर होगा बीच-बीच में ब्रेक लेते रहे, जिससे आपका मस्तिष्क रिफ्रेश होता रहेगा । अपने खाने-पीने और स्वास्थ्य पर भी ख्याल रख्खें  । बोर्ड एग्जाम से पहले हो सके तो अपना कई बार टेस्ट भी लें। उससे आपको परीक्षा की तैयारी का अंदाजा लग जाएगा । परीक्षार्थी गणित केवल प्रश्न पत्र में शुद्धता एवं गतिशीलता पर विशेष ध्यान दें ।