ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
कानपुर उद्योग व्यापार मंडल नेे केस्को एमडी को शिकायती पत्र सौपा
February 2, 2020 • Faisal Hayat • Social

शावेज़ आलम

कानपुर । नए स्मार्ट मीटरों में आ रही भारी गड़बडियां, बढ़े हुए बिजली के बिल तथा केस्को द्वारा व्यापारियों का उत्पीड़न एवं उनसे दुर्व्यवहार इत्यादि शिकायतों को लेकर कानपुर उद्योग व्यापार मंडल ने केस्को एमडी के साथ बैठक कर शिकायती पत्र सौंपा, महामंत्री विनोद गुप्ता ने कहा कि लाल बंगले का एक व्यापारी जिसकी दुकान कलक्टरगंज में स्थित है उस व्यापारी ने 22 सितंबर 2019 को 5600 रू/ का अपने घर का बिल दालमंडी केसा में जमा करा दिया क्योंकि केस्को की तरफ से यह सुविधा है कि बिल किसी भी जगह का कहीं भी जमा हो सकता है उक्त व्यापारी को 5600 रू/- जमा की रसीद भी केस्को द्वारा दी गयी किन्तु उसके अगले महीने से लगातार आ रहे बिजली बिल में उसके द्वारा जमा 5600 रू/- की धनराशि घटाई ही नही गयी व्यापारी जाजमऊ-दालमंडी सबस्टेशनों के चक्कर लगाता रहा पीड़ित व्यापारी ने एक माह पूर्व फूलबाग एई से भी लिखित शिकायत की फूलबाग एई द्वारा व्यापारी की शिकायत का निराकरण करने का आश्वासन दिया गया किन्तु 01 माह होने के बाद व्यापारी की कोई सुनवाई नही हुई और विभाग उसका कनेक्शन काटने पहुंच गया जिस पर व्यापारी ने बिल तो पूरा जमा करा दिया किन्तु वह 5600 रू/- की धनराशि अभी भी केस्को अपने पास रखे बैठा है और उसका ब्याज भी उल्टा व्यापारी से वसूल रहा है इस पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए महामंत्री विनोद गुप्ता ने कहा कि बिल जमा करने वाले ऐसे गैरजिम्मेदार अधिकारी को तत्काल रूप से कड़ा दंड दें ताकि भविष्य में कोई अन्य व्यापारी इस तरह प्रताड़ित ना किया जाए और व्यापारी के 5600 रू/- जो जमा हैं उसको भी बिल में घटाया जाए ।
   व्यापारी ग्रीष्म अवस्थी ने अपनी पीड़ा व्यक्त करते हुए बताया कि अप्रैल 2019 में प्लॉट में मीटर लगा हर माह बिल भी जमा हो रहा था किंतु जब व्यापारी बाहर चले गए तो उनके प्लॉट से मीटर चोरी हो गया क्योंकि मीटर घर के बाहर लगता है मीटर चोरी का पता लगते ही थाने में कंप्लेन दर्ज कराई जिसमे पुलिस ने कंप्लेन लेटर में मोहर लगाकर दी यह कागज नौबस्ता जेई को दिया उन्होंने भी अपनी रिपोर्ट लगाकर नया मीटर लगवा दिया किन्तु उसके कुछ समय बाद वह नया मीटर केस्को द्वारा उखाड़ लिया गया और यह बताया कि आपका 68 हजार रू/- बकाया है जब व्यापारी ने बताया कि उसका मीटर चोरी हो गया था तो एसडीओ बोले कि थाने में तो 100-200 देकर मोहर लग जाती है अब कुछ नही होगा 10-20 हजार देकर मामला निपटा लो जिसका स्टिंग भी व्यापारी ने केस्को एमडी को सौंपा है जब जेई की रिपोर्ट लग के मीटर लगा तो उनको कैसे उखाड़ा जा सकता है केस्को द्वारा व्यापारी के इस के साथ इस तरह किये जा रहे उत्पीड़न पर ग्रीष्म अवस्थी के समर्थन में पूरा व्यापार मंडल बिफर पड़ा और सभी ने एक सुर में ऐसे दोषी एसडीओ को तत्काल निलंबित करने की मांग की ।


  मंडलाध्यक्ष विजय पण्डित ने कहा कि केस्को में कार्यरत जूनियर अधिकारी कोई काम नही करते वे सिर्फ व्यापारियों का उत्पीड़न करते हैं शहर में जहां बिजली की चोरी होती है वहां तो अंडरग्राउंड लाइन डालने का काम चल रहा है और जहाँ व्यापारिक गढ़ है जो सबसे ज्यादा राजस्व देता है सरकार को उनके व्यापारिक क्षेत्रों- नयागंज, हूलागंज, भूसाटोली, एक्सप्रेस रोड, घण्टाघर, कलक्टरगंज, धनकुट्टी, बादशाहीनाका, जनरलगंज, नौघडा, कहूकोठी, मेस्टन रोड, मनीराम बगिया बिजली मार्केट, घुमनी बाजार, कमला टावर, सिरकी मोहाल, शिवाला, चौक सर्राफा, बिरहाना रोड, राम नारायण बाजार, पटकापुर जैसे शहर के प्रमुख और सबसे प्राचीन व्यापारिक केंद्रों पर केस्को का कोई ध्यान ही नही है यहाँ शहर ही नही पूरे प्रदेश का व्यापारी आता है और तारों की झालरें सिर से छूकर गुजरती हैं जो हादसों को आमंत्रण दे रहे हैं यदि कोई जनहानि घटित होती हैं तो उसका जिम्मेदार केस्को होगा क्योंकि आज के अलावा पहले भी कई बार घने बाजारों में तारों के मकड़जाल की समस्या उठायी जा चुकी है किंतु केस्को लापरवाही में बात टाल जाता है यह ठीक नही है ।
  प्रदेश उपाध्यक्ष मुकुंद मिश्रा ने कहा कि सड़कों के बीच मे या सड़क को घेरकर लगे खम्बों व ट्रांसफॉर्मरों को चिन्हित कराकर इन्हें ऐसी जगह लगवाएं जहाँ सड़क पर जाम की स्थिति उतपन्न ना हो और जनहानि की संभावना भी ना रहे अन्यथा इसके कारण सड़कों पर अतिक्रमण हो जाता है*,
 महिला जिलाध्यक्ष अनुपमा जैन ने कहा कि ए एनडी कॉलेज के पीछे ब्रम्ह नगर-हर्ष नगर के मध्य आसरा कालोनी है जहाँ ट्रांसफॉर्मर तो लगा है किंतु बिजली सप्लाई बंद है ऐसे में उस बस्ती के लोग अंधेरे में रह रहे है इसको तत्काल ठीक कराएं ।
  श्याम अग्रहरि ने कहा कि दाल मंडी केसा में शाम के समय कई अराजक तत्व केस्को कर्मचारियों की मिलीभगत से अंदर बैठकर महिलाओं व व्यापारियों से दुर्व्यवहार करते हैं और काम कराने के नाम पर लाइजनिंग करते है इस पर रोक लगाई जाए इसके पहले भी कई बार इसी कारण दाल मंडी सबस्टेशन में हंगामा हो चुका है जिससे कानून व्यवस्था भी खराब होती है ।
 मार्बल मार्केट अध्यक्ष विजय गुप्ता ने कहा कि सिक्योरिटी मनी जमा कराए जाने के पश्चात यदि बिल 01-02 दिन देर से जमा होता है तो डिक्सनेट चार्जेस की अतिरिक्त वसूली ना कि जाएं इस छूट को बढ़ाया जाए क्योंकि व्यापारी अपने व्यापार में फंसे होने या बाहर होने के कारण कभी-कभी समय पर नही पहुंच पाता लिहाजा यह अतिरिक्त बोझ व्यापारी की जेब पर ना डाला जाए ।
 सागर मार्केट के विनय अग्रवाल ने कहा कि नमामि गंगे प्रोजेक्ट के काम के तहत सागर मार्केट की लाइन डैमेज है कई दिनों से बिजली नही आ रही है
 रोशन लाल अरोड़ा ने कहा कि मीटर रीडर जो भी राइडिंग नोट करने आये उसके पास केस्को का आईकार्ड और एक ड्रेस कोड हो क्योंकि जब रीडर आते हैं तब घर मे पुरुष नही होते सिर्फ महिलाएं होती हैं ऐसे में मीटर रीडर और अनजान अराजक तत्वों के बीच अंतर कर पाना मुश्किल होता है और आपराधिक घटनाओं को बढ़ावा मिलता है।
   सभी व्यापारियों की बातों को सुनकर केस्को एमडी ने कहा कि व्यापारियों का उत्पीड़न उनके साथ दुर्व्यवहार करने वाले अधिकारी/कर्मचारियों को कत्तई बख्शा नही जाएगा मैं स्वयं उनकी जांच कर कड़ी कार्यवाही करूंगा इसके अलावा, स्मार्ट मीटर की गड़बड़ियों व व्यापारियों द्वारा बताए गए तमाम मुद्दों पर उन्होंने कहा कि वह हर मामले की जांच कर प्रत्येक व्यापारी को राहत देने का काम करेंगे जिसके साथ अन्याय/उत्पीड़न हुआ है।
   प्रमुख रूप से उपस्थित :- नीरज दीक्षित, विजय पण्डित, टीकम सेठिया, विनोद गुप्ता, मुकुंद मिश्रा, शेष नारायण त्रिवेदी, रोशनलाल अरोड़ा, सत्यप्रकाश जयसवाल, श्याम अग्रहरि,सन्त मिश्रा, संजय त्रिवेदी, पवन दुबे, महिला जिलाध्यक्ष अनुपमा जैन, रतन शिवहरे, अलंकार ओमर, संजय राठौर, विशाल अग्रवाल, सनी सिंह, दीपक अग्रवाल, मनीष बाजपेयी, शीबू गुप्ता, ग्रीष्म अवस्थी, विजय गुप्ता, विनय अग्रवाल, रतन शिवहरे, जितेंद्र गौड़, पारस , श्याम अग्रहरि