ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
नागरिक शास्त्र पेपर सिविल की तैयारी कराता है-बलराम 
January 3, 2020 • Faisal Hayat • Education

   सिद्धार्थ ओमर

 कानपुर । यूoपीo बोर्ड इंटरमीडिएट नागरिक शास्त्र केवल प्रश्न पत्र दिनांक 24 फरवरी 2020 को सायं 2:00 से 5:15 बजे तक, जिसमें 15 मिनट प्रश्नपत्र पढ़ने के लिए निर्धारित है। सिविल या अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हेतु इंटर नागरिक शास्त्र का पाठ्यक्रम तैयार करना अत्यंत आवश्यक है। इस संबंध में पी पी एन इंटर कॉलेज नागरिक शास्त्र प्रवक्ता बलराम ने बताया कि अब इंटर नागरिक शास्त्र का केवल प्रश्नपत्र एनसीईआरटी पैटर्न पर आधारित है। नागरिक शास्त्र विषय काफी जिज्ञासा पूर्ण विषय होता है, इसको पढ़ने व समझने में छात्र काफी रूचि लेते हैं। नागरिक शास्त्र पाठ्यक्रम को पूरी तरह छात्रों को समझ लेना चाहिए और इसके नोट्स बनाकर तथा साप्ताहिक रिवीजन से विद्यार्थी बहुत ही अच्छे अंक प्राप्त कर सकते हैं। नागरिक शास्त्र प्रश्न पत्र में प्रश्न संख्या 1 से 10 तक बहुविकल्पी प्रश्न, प्रत्येक 1 अंक। प्रश्न संख्या 11 से 20 तक अति लघु उत्तरीय प्रश्न, जिसका उत्तर 10 शब्दों अर्थात एक वाक्य में देना होगा, जो प्रत्येक 1 अंक का होगा। प्रश्न संख्या 21 से 26 तक लघु उत्तरीय प्रश्न जिनका उत्तर 50 शब्दों में देना होगा ,जो प्रत्येक 5 अंक का होगा ।प्रश्न संख्या 27 से 30 तक लघु उत्तरीय प्रश्न ,जिनका उत्तर 100 से 150 शब्दों में देना होगा, जो प्रत्येक 6 अंक का होगा। प्रश्न संख्या 31 व 32 दीर्घ उत्तरीय प्रश्न जिसका उत्तर 250 शब्दों में देना होगा, जो प्रत्येक 8 अंक का होगा। पाठ्यक्रम में शीत युद्ध का दौर, दो-ध्रुवीयता का अंत ,14 अंक। समकालीन विश्व में अमेरिकी वर्चस्व ,सत्ता के वैकल्पिक केंद्रव, समकालीन दक्षिण एशिया, 16 अंक। अंतरराष्ट्रीय संगठन, समकालीन विश्व में सुरक्षा, 10 अंक ।पर्यावरण और प्राकृतिक संसाधन, वैश्वीकरण ,10 अंक ।राष्ट्र निर्माण की चुनौतियां, एक दल के प्रभुत्व का दौर का 16 अंक निर्धारित हैं। प्रवक्ता बलराम ने बताया कि नागरिक शास्त्र स्कोरिंग विषय है, इसलिए पेपर में दिए गए निर्देशों के अनुसार ही पेपर हल करें। दीर्घ उत्तरीय प्रश्नों को छात्र अच्छी तरह तैयार करें ताकि इससे लघु उत्तरीय प्रश्न, अति लघु उत्तरीय प्रश्न,व वस्तुनिष्ठ प्रश्न के सभी उत्तर तैयार हो जाएंगे।