ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
नीरज गुप्ता व अधिवक्ता  पर हुए जानलेवा हमले के चलते नवाबगंज बाजार बंद रहा
January 30, 2020 • Faisal Hayat • Politics




कानपुर । दो दिन पूर्व प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के पूर्व कोषाध्यक्ष नीरज गुप्ता व उनके अधिवक्ता चाचा अरुण कुमार गुप्ता पर उनके नवाबगंज स्थित घर पर फायरिंग करके जान माल का नुकसान पहुंचाने की कोशिश की गई थी।
इसके चलते परमट निवासी विक्की ठाकुर और आवास विकास कल्याणपुर निवासी चरणजीत वह दो अज्ञात को नामजद किया गया था। नवाब  गंज  व्यापार मंडल के व्यापारियों का आक्रोश था बड़ गया जब दो दिन बीत जाने के बाद भी, उक्त गोलीकांड के अभियुक्तों की मुकदमा दर्ज होने के 48 घंटे बाद भी नवाबगंज थाने की पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की ।
हमलावरों की गिरफ्तारी न होने के विरोध में पूरा नवाबगंज व्यापार मंडल की हर दुकान बंद रहे इसके पीछे एक कारण और भी रहा कि अधिवक्ता अरुण कुमार गुप्ता के बड़े भाई वह नीरज गुप्ता के पिता स्वर्गीय श्यामलाल गुप्ता समाजवादी पार्टी व व्यापार मंडल के पुराने नेता रहे हैं ।
व्यापारी नेताओं की मांग है कि 24 घंटे के अंदर अभियुक्तों की गिरफ्तारी हो अन्यथा एक बहुत बड़ा आंदोलन तैयार खड़ा है ।
प्रशासन के बीच कान खड़े हो गए हैं इस बंदी के चलते उम्मीद की जाती है कि जल्दी पुलिस एक्शन में आएगी ।
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष शिव मोहन सिंह चंदेल ने कहा कि यदि 24 घंटे के अंदर अभियुक्तों की गिरफ्तारी नहीं होती है तो हमारा एक प्रतिनिधिमंडल एसएसपी कानपुर को ज्ञापन देकर गिरफ्तारी की मांग करेगा 
नवाबगंज बाजार  बंदी  में प्रमुख रूप से नवाबगंज व्यापार मंडल के नेता ओलंपिक गुप्ता, नीरज गुप्ता, अशोक सराफ, मनोज गुप्ता, देव किशोर शुक्ला, वीरेंद्र गुप्ता, पवन अग्रवाल उतान बाबा ज्ञान साहू दीपक गुप्ता बुद्धू लाल सर्राफ देवीलाल अनिल सिंह कृष्ण कुमार रामसेवक शादी काली पट्टी बांधकर दुकाने बंद करवाते रहे । प्रसपा नेताओं में शिव मोहन सिंह चंदेल आशीष चौबे सचिन वोहरा, महेंद्र तोमर, अनूप त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।