ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
सामान्य हिंदी परीक्षा में अधिकतम अंक पाने का अचूक मन्त्र-लाल बहादुर
January 16, 2020 • Faisal Hayat • Education

                                         

 कानपुर । इंटर सामान्य हिंदी केवल  प्रश्न पत्र 3 घंटे15 मिनट का होगा,जिसमें 15 मिनट पेपर पढ़ने का है।चिंतन,पुनरावृत्ति और विषय सामग्री को लिखने से छात्रों  को सामान्य हिंदी में सर्वोच्च अंक प्राप्त होते हैं। सामान्य हिंदी में अंक कैसे अच्छे लाए जाएं । इस संबंध में पी पी एन इंटर कॉलेज के हिंदी अध्यापक श्री लाल बहादुर ने बताया  कि सामान्य हिंदी संपूर्ण प्रश्न पत्र जो दो खंडों में विभाजित होता है। खंड क में हिंदी गद्य साहित्य का इतिहास एवं हिंदी काव्य साहित्य का इतिहास से संबंधित वस्तुनिष्ठ प्रश्न प्रथम एवं द्वितीय प्रश्न के रूप में होते हैं,जो विभिन्न कालों, लेखकों एवं कवियों की कृतियों पर आधारित होते हैं। प्रत्येक वस्तुनिष्ठ प्रश्न 1 अंक का होगा।  तृतीय एवं चतुर्थ प्रश्न पाठ्यक्रम में  गद्याशो एवं पद्याशो पर आधारित पांच पाच प्रश्न अलग अलग होंगे।कोर्स मे निर्धारित कहानियों का सारांश एवं उद्देश्य पर आधारित प्रश्न होगा जो 5 अंक का होगा। इस खंड में सातवां प्रश्न खंड काव्य की कथावस्तु एवं प्रमुख पात्रों के चरित्र चित्रण पर आधारित होगा,जो 5 अंक का होगा। खंड ख में पाठ्यक्रम निर्धारित संस्कृत खंड से संस्कृत गद्य एवं पद्य का हॊगा। हिंदी अनुवाद संदर्भ सहित,मुहावरे  एवं लोकोत्तियां,संधि विच्छेद, विभक्ति,वचन, शब्द युग्म, वाक्यांश के लिए एक शब्द, वाक्यों को शुद्ध करने से संबंधित प्रश्न, रस, श्रृंगार, करुण ,वीररस,अलंकार, छंद की परिभाषा उदाहरण सहित और पत्र लेखन।संपूर्ण प्रश्नपत्र को ध्यान पूर्वक पढ़ने के पश्चात ही प्रश्न पत्र हल करें, जिन प्रश्नों के उत्तर आपको बहुत ही अच्छे ढंग से आ रहे हो उनके उत्तर पहले तथा आपके अनुसार जो प्रश्न कठिन हो उनके उत्तर बाद में हल करें, जिससे आता हुआ प्रश्न न छूटे। लिखते समय हस्त लेख पर विशेष ध्यान दें क्योंकि स्वच्छ लेख से परीक्षक बहुत ही प्रभावित होता है,और आपको अधिक अंक प्राप्त हो सकते हैं। सकारात्मक सोच से आपका आत्मविश्वास मजबूत होगा । परीक्षा में मुझे सफल होना ही है,इस सोच से उपजा आत्मबल आप को शत-प्रतिशत सफलता प्रदान करेगा। समय सारणी बनाकर योजनाबद्ध रूप से अध्ययन करें ।महत्वपूर्ण प्रश्नों की रूपरेखा बनाकर उन्हें अवश्य दोहराएं।प्रश्नोत्तरो को याद करके अधिक से अधिक रफ- लेखन करने से आत्मविश्वास बढ़ेगा और लिखने की गति में वृद्धि होगी।याद की गई विषय सामग्री के बिंदुओं को मन ही मन में दोहराएं।इससे आप निश्चित कर सकेंगे कि अमुक प्रश्नों के उत्तर मेरे मन एवं मस्तिष्क में अंकित हो गए हैं।चिंतन,पुनरावृत्ति और विषय सामग्री को लिखने से आपको सर्वोच्च अंक प्राप्त होंगे।