ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
समाजवादियों की चीन से आयात पर अंकुश लगाने की मांग
September 1, 2020 • Faisal Hayat • Politics

समाजवादियों की चीन से आयात पर अंकुश लगाने की मांग

 

कानपुर लगातार चीन द्वारा भारत की सीमा रेखाओं पर भारत विरोधी कार्यवाही,हिंसा व भारत की भूमि पर कब्ज़े के प्रयास से आक्रोशित समाजवादी पार्टी व्यापार सभा व उत्तर प्रदेश प्रान्तीय व्यापार मण्डल से जुड़े व्यापारियों ने आज मारियमपुर चौराहे के पास चीन का झंडा जलाकर भारत सरकार से चीन से आयात पर अंकुश लगाते हुए 300 प्रतिशत तक इम्पोर्ट ड्यूटी लगाने की मांग रखी। समाजवादी पार्टी समर्थित उत्तर प्रदेश प्रान्तीय व्यापार मण्डल द्वारा आयोजित विरोध प्रदर्शन में सपा व्यापार सभा के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष व उ प्र प्रान्तीय व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की भारत सरकार को तत्काल सख्त कदम उठाते हुए चीन से आयात पर अंकुश लगाते हुए 300 प्रतिशत तक इंपोर्ट ड्यूटी लगानी चाहिए।पाकिस्तान और चीन दोनों ही धोखेबाज हैं।अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की चीन हमारी भूमि पर बुरी नज़र रखता है और हमारे खिलाफ आतंकवाद को भी प्रायोजित करता है।अभिमन्यु गुप्ता ने कहा कि व्यापारी आज चीन को कड़ा सबक सिखाने के लिए संकल्पित हैं।अभिमन्यु गुप्ता ने कहा कि इतिहास में चीन ने हमेशा दोस्ती का हाथ बढ़ाकर भारत को धोखा ही दिया है।सपा व्यापार सभा के कानपुर महानगर अध्यक्ष व प्रान्तीय व्यापार मंडल के प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष हरप्रीत भाटिया लवली ने कहा की वर्तमान में लेह लदाख क्षेत्र की घटना चीन के दुस्साहस का प्रतीक है।लवली ने मांग रखी कि भारत माता व देश के शहीद सैनिकों के सम्मान में चीन से आयात रोका जाना चाहिए क्योंकि उससे हमारे कुटीर उद्योग खत्म हो रहे हैं।भारत चीन का डम्पिंग ग्राउंड बन चुका है।देश का व्यापारी देश और सेना के सम्मान के लिए हर हद तक लड़ेगा।प्रदेश उपाध्यक्ष बॉबी सिंह ने कहा चीन से आयात रोका जाना चाहिए या 300 प्रतिशत तक ड्यूटी लगा देना चाहिए।प्रान्तीय व्यापार मण्डल के कानपुर नगर महासचिव मनोज चौरसिया ने कहा की सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव भारत सरकार से पहले ही ये मांग कर चुके हैं पर भारत सरकार चीन के मामले में चुप्पी साधे है जिससे कि देशवासियों व सेना का मनोबल टूट रहा है।अभिमन्यु गुप्ता,हरप्रीत भाटिया लवली,बॉबी सिंह,मनोज चौरसिया,शेषनाथ यादव,हरिओम शर्मा,गुड्डू यादव,विवेक श्रीवास्ताव,आज़ाद खान, मोहित कश्यप, इंद्र कुमार कुशवाहा,भूपिंदर सिंह भाटिया आदि थे।