ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
टाटा पावर सोलर ने स्थाई ऊर्जा समाधान ओं को बढ़ावा देने के लिए उल्लेखनीय कैंपेन लांच किया
January 17, 2020 • Faisal Hayat • Devlopment

हफ़ीज़ अहमद खान
 कानपुर । सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिये आने वाले महीनों में 43 अन्य शहरों में जाने की संभावना हैए क्योंकि सौर ऊर्जा उपकरण स्थापित करने से प्रतिवर्ष 50ए000 प्रति 5 किलोवाट तक की बचत होने की उम्मीद है।स्थानीय संलग्नता के लिये टाटा पावर सोलर विभिन्न गतिविधियाँ चला रहा हैए जैसे लोगों से जुड़ने और उन्हें सौर ऊर्जा अपनाने के लाभ बताने के लिये मार्केटिंग वैन एक्टिवेशन।नवीकरण योग्य ऊर्जा के महत्व पर जागरूकता उत्पन्न करता है और देश के लोगों को सौर ऊर्जा का उपयोग करने की प्रेरणा देता है।यह कैम्पेन ग्राहक संतोष को बढ़ाने वाले सर्वश्रेष्ठ श्रेणी की गुणवत्ता के उत्पादए विश्व.स्तरीय व्यक्तिपरक समाधान और व्यापक सेवा सहयोग प्रदान कर उपभोक्ताओं के साथ मजबूत सम्बंध स्थापित करने में टाटा पावर सोलर की विशेषज्ञता की पुनःपुष्टि करता है। टाटा पावर सोलर ने कार्बन उत्सर्जन कम करने का समर्थन किया है और उसके आवासीय रूफटॉप समाधान डीजल जनरेटरों के उपयोग पर अंकुश लगाते हैंए जिससे अधिक ईंधन की बचत होती है। कंपनी के पास भारत में 150 से अधिक बिक्री एवं सेवा चैनल भागीदार हैंए जो उपभोक्ताओं को वित्तीय विकल्प देते हैं।इस पहल पर टिप्पणी करते हुए टाटा पावर के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी प्रवीर सिन्हा ने कहाएनया कैम्पेन उपभोक्ता को स्वच्छ और हरित समाधान अपनाने के लिये प्रोत्साहित करेगा। हम देशभर में अपने ग्राहकों के लिये सरल और कम लागत वाली बिजली उत्पन्न करने हेतु सोलर रूफटॉप की पेशकश करते हुए प्रसन्न हैं। हम उत्तर प्रदेश के सभी ग्राहकों से इस सेवा का पूरा लाभ उठाने का आग्रह करते हैं।इस अवसर पर आशीष खन्नाए प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारीए टाटा पावर सोलर और टाटा पावर ;रिन्यूएबल्सद्ध के प्रेसिडेन्ट ने  कैम्पेन से हम अपने आवासीय उपभोक्ताओं को सोलर रूफटॉप स्थापित करने के वाणिज्यिक लाभों और गुणवत्ता सम्बंधी पहलुओं की जानकारी देने का प्रयास कर रहे हैं। हमें आशा है कि इस पहल और हमारे कम लागत वाले रूफटॉप समाधानों से उपभोक्ताओं को ऊर्जा संरक्षण में मदद मिलेगी और बिजली की लागत कम होगी। इससे हमें भी भारत की नंबर 1 रूफटॉप कंपनी के तौर पर स्थापित रहने के अपने उद्देश्य में मदद मिलेगी।
टाटा पावर सोलर के पास आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में 500 एकड़ भूमि पर 100 मेगावाट की परियोजना और ओडिशा के लापांगा में 30एमडब्ल्यूपी के सौर ऊर्जा संयंत्र जैसी बड़ी परियोजनाओं के सफल निष्पादन की पृष्ठभूमि है। यह भारत की सबसे बड़ी सौर विद्युत परियोजनाओं में से एक है और एश डाइक क्षेत्र में 60 प्रतिशत ;19 एमडब्ल्यूपीद्ध और सामान्य भूमि पर 40 प्रतिशत ;11 एमडब्ल्यूपीद्ध में एश डाइक क्षेत्र पर बनी है। टाटा पावर सोलर ने पावागडा सोलर पार्कए कर्नाटक में 400 मेगावाट के इंस्टालेशंस का सफल निष्पादन किया है। कंपनी ने 1000 मेगावाट की परियोजनाओं के लिये गुजरात द्वारा की गई नीलामी भी जीती हैए जिन्हें धोलेरा सोलर पार्क में बनाया जाएगा। इनके अलावाए टाटा पावर सोलर ने कोचिन इंटरनेशनल एयरपोर्ट में भारत के सबसे बड़े कारपोर्ट पर एकल ठिकाने पर विश्व का सबसे बड़ा रूफटॉप लगाया है। टाटा पावर सोलर ने क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया से हाथ मिलाया और 100 दिन की रिकॉर्ड अवधि में दुनिया का सबसे बड़ा सोलर.पॉवर्ड क्रिकेट स्टेडियम मुंबई स्थापित किया।