ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
टूटी खूनी सड़क पे समाजवादियों का प्रदर्शन
December 9, 2019 • Faisal Hayat • Politics

हफ़ीज़ अहमद खान


कानपुर । आज उत्तर प्रदेश प्रान्तीय व्यापार मण्डल के तत्वाधान में शुक्लागंज से फूलबाग स्थित कानपुर प्रवेश रोड की जर्जर,खूनी,टूटी हालत से नाराज़ व्यापारियों व क्षेत्रीय नागरिकों ने सड़क पे कंकाल व विरोध बैनर लेकर  मौन प्रदर्शन किया व मुख्यमंत्री से वादा निभाने की मांग रखी।कल 8 दिसम्बर को इस सड़क पर ही एक क्षेत्रीय महिला सन्नो की मौत हो गई थी जिसका कारण केवल गढ्ढेदार सड़क ही है क्योंकि गढ्ढेदार सड़क पर ई रिक्शा पलट गया था।वहीं पर व्यापारियों ने विरोध स्वरूप कफ़न भी बिछाया और मृतक सन्नो की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।नेतृत्व कर रहे उत्तर प्रदेश प्रान्तीय व्यापार मण्डल के प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की मुख्यमंत्री ने 30 नवम्बर तक यूपी को गढ्ढामुक्त बनाने का वादा किया था।आज हमको मजबूर किया जा रहा है मौत पे चलने के लिए और मौत जैसे भयावह दर्द को चुनने के लिए। अभिमन्यु गुप्ता ने कहा की एक महिला की मौत की ज़िम्मेदार केवल सरकार और उसके संवेदनहीन लापरवाह अधिकारी हैं। लखनऊ, उन्नाव, शुक्लागंज, मगरवारा को कानपुर से जोड़ने वाला एक प्रमुख रस्ता ये है।ऑसि पास हज़ारों लोग रहते हैं।इस सड़क से कानपुर,उन्नाव,शुक्लागंज,मगरवारा आदि क्षेत्र के व्यापारी,उद्यमी,मज़दूर,छात्र,आम नागरिक आवागवन में भयंकर दिक्कत झेलते हैं।व्यापारी,किसान,सब्जी वाले,फल वाले,नौकरीपेशा समेत हर वर्ग इस सड़क से गुजरने में भयंकर यातना और शारीरिक दर्द को झेलता है।ट्रांसपोर्टरों और व्यापारियों की गाड़ियां आए दिन टूटती हैं और आए दिन कोई गिर के चुटिल होता है।दो पहिया वाहनों के शॉकर टूटने की खबर आए दिन आती है।अभिमन्यु गुप्ता ने मांग रखी कि माननीय प्रधानमंत्री  व मुख्यमंत्री जब 14 दिसम्बर को कानपुर आएं तो प्रशासन उनको इस रास्ते से निकाले ताकि उनको पता चले कि जनता कितनी तकलीफ में है।व्यापार बुरी तरफ प्रभावित हो रहा है।लागत बढ़ गई और चोट आदि का तनाव भी बढ़ गया है।कानपुर सबसे ज़्यादा टैक्स देता है और फिर भी सबसे खराब गढ्ढेदार सड़कें कानपुर को ही क्यों।इस टूटी सड़क की वजह से महिला की जान गई है और कुछ दिन पूर्व कानपुर में अन्य टूटी सड़कों की वजह से एक सिपाही की भी जान गई। इसलिए ज़िम्मेदार अधिकारियों पर मुकदमा दर्ज किया जाए और मृतक सन्नो के परिवार को मुआवजा दिया जाए क्योंकि सरकार ने वादा किया था कि यूपी 30 नवम्बर तक गढ्ढा मुक्त हो जाएगी।संजय बिस्वारी ने कहा की कानपुर सबसे ज़्यादा राजस्व देता है और सबसे ज़्यादा सौतेला व्यवहार कानपुर से ही होता है। कानपुर को सबसे घटिया सड़कें,कूड़ा व प्रदूषण का ज़हर मिल रहा है।नगर अध्यक्ष जीतेन्द्र जायसवाल ने कहा की सरकार ने 30 नम्वबर तक गढ्ढामुक्त करने का वादा किया था उस वादे को निभाए वरना इस्तीफा दे।जितेंद्र जायसवाल ने कहा कि पूरा कानपुर टूटी सड़कों व दिखावटी पैच वर्क से परेशान है।प्रदेश अध्यक्ष अभिमन्यु गुप्ता,प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय बिस्वारी, कानपुर नगर अध्यक्ष जीतेंद्र जायसवाल,कानपुर ग्रामीण अध्यक्ष विनय कुमार,मनोज चौरसिया,शेषणाथ यादव, मो शारिक,मुकेश कनौजिया,बृजेश श्रीवास्तव,अंकुर गुप्ता,गौरव बकसारिया,राजेन्द्र कनौजिया,अमन तिवारी,करण साहनी,घनश्याम,शानू आदि थे।