ALL Social Crime State Politics Entertainment Press Conference Education Devlopment
उन्नति के लिए तकनीक का इस्तेमाल करें कुरैशी समाज -हाजी यूसुफ
November 27, 2019 • Faisal Hayat


 कानपुर । मीरपुर कैंट में हुए कुरैशी सम्मेलन में आए मुख्य अतिथि ऑल इंडिया जमीअतुल कुरेश के प्रदेश अध्यक्ष हाजी यूसुफ कुरैशी ने कुरैशी समाज को संबोधित करते हुए कहा,कुरैशी समाज अगर तरक्की चाहता है तो उसको नई तकनीक का इस्तेमाल करना पड़ेगा,नहीं तो वह दिन दूर नहीं जब मांस का व्यापार (जो कुरैशी समाज की पहचान है)आने वाले समय में रिलायंस या ना जाने कौन-कौन सी कंपनियों के रिटेल स्टोर की शोभा बढ़ाएगा,और कुरैशी समाज जो हमेशा से आजाद रहा है इन कंपनियों की गुलामी में जिंदगी गुजारेगा,अगर इस गुलामी से समाज को बचना है तो कुरैशी समाज को शिक्षित होना पड़ेगा, जिससे यह समाज नई तकनीक हासिल कर दुनिया की दूसरी कंपनियों का मुकाबला कर सके,उन्होंने कहा सरकार ने जिस तरह तुगलकी फरमान जारी कर स्लाटर बंद कर दिया है वह निंदनीय है,जबकि उच्च न्यायालय ने अपने आदेश में कहा है नई तकनीक का फ्लटर बनाना नगर निगम व प्रदेश सरकार की जिम्मेदारी है,पर सरकार ने इस पर अभी तक कोई ठोस कार्यवाही नहीं की है,जिससे कुरैशी समाज को अपना परिवार पालने में दिक्कतें आ रही हैं,उन्होंने सरकार से मांग की है कुरैशी समाज भी एक किसान की तरह है जैसे देश का किसान अन्नदाता है उसी तरह मांस का व्यवसाय करने वाला कुरैशी भी अन्नदाता है,क्योंकि भारत की 85% जनता मांसाहारी है तो यह समाज भारत की 85%जनता का पेट भरता है,सरकार को चाहिए कुरैशी समाज को किसान का दर्जा दे और वह सारी सुविधा जो भारत के किसानों को दी जाती है वह सुविधा मांस का व्यवसाय करने वाले कुरैशी को भी मिलनी चाहिए।यूथ विंग के प्रदेश अध्यक्ष हाजी अनवर कुरेशी ने संबोधन में कहा कि समाज जो आज बिखरा हुआ है उस को एकजुट होना पड़ेगा उन्होंने समाज में शादी ब्याह के नाम पर हो रही फ़िज़ूल खर्च से मना किया।सम्मेलन में शामिल हुए डॉ इसरार क़ुरैशी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कुरेशी कबीले से ही अल्लाह ने दुनिया को हिदायत देने के लिए अपने प्यारे नबी को इस दुनिया में भेजा और आज यही कबीला अपने आका का फरमान भूल गया जिसकी वजह से इस कबीले पर आज परेशानी आई है।लखनऊ से आए यूथ विंग के जिला अध्यक्ष शहाबुद्दीन कुरैशी ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा आज कुरैशी समाज की बदहाली का सबसे बड़ा कारण है इस समाज का अशिक्षित होना है  आज भी इस समाज में शिक्षा का दर दूसरी और बिरादरी के मुकाबले में बहुत कम है।तो कानपुर यूथ जिलाध्यक्ष वासिफ़ कुरैशी ने कहा कानपुर का कुरैशी समाज खुद का दुश्मन है यहां का कुरैशी ही कुरेशी की बुराई में लगा रहता है सरकार द्वारा जिस तरह नगर निगम का स्लाटर बंद कर दिया गया है और उसके बदले कोई वैकल्पिक व्यवस्था नहीं की गई  जिसकी वजह से आज कानपुर का कुरैशी समाज बड़ी-बड़ी कंपनियों की गुलामी में मुब्तिला होता जा रहा है।ऑल इंडिया जमीअतुल कुरेश यूथ विंग के जनरल सेक्रेटरी नाज आलम ने कहा कुरैशी समाज बहुत जुल्म बर्दाश्त कर चुका है अब वक्त आ गया है अपना हक लेने का,यह समाज संवैधानिक तरीके से सरकार से अपने हक की मांग करेगा अगर सरकार ने कुरैशी समाज की मांगे नहीं मानी तो यह समाज सड़कों पर निकलकर आंदोलन को बाध्य होगा ।
 सम्मेलन की अध्यक्षता हाजी मंजूर अहमद कुरैशी ने की और संचालन मुकीम अहमद कुरैशी ने किया।सम्मेलन में प्रमुख रूप से आगरा से जिला अध्यक्ष मोहम्मद कासिम कुरेशी मथुरा जिला अध्यक्ष मोहम्मद आसिफ कुरेशी लखनऊ जिला अध्यक्ष शहाबउद्दीन कुरेशी चौधरी आले उमर कुरेशी,छोटे कुरेशी,शहजाद कुरेशी,छोटे भैया कुरेशी,मोहम्मद इरशाद कुरैशी,मुबीन अहमद कुरेशी,हसीन अहमद कुरेशी, वकील अहमद कुरेशी,मेहताब कुरैशी,इम्तियाज कुरैशी,इरशाद कुरैशी व प्रदेश के विभिन्न जिलों से आए कुरेशी के साथ कानपुर का कुरैशी समाज उपस्थित रहा।